SMILE : 2.0


SMILE 2.0 के तहत दैनिक रूप से प्रसारित होने वाले STUDY MATERIALS व HOME WORK को एक ही जगह से प्राप्त किया जा सकता हैं |


अगर आप राजस्थान के शिक्षक हैं और शिक्षा जगत के समस्त लेटेस्ट अपडेट प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे 👇 दिए लिंक पर क्लिक करके WHATSAPP ग्रुप को ज्वाइन करें 👇👇👇

CLICK HERE TO JOIN OUR WHATSAPP GROUP
CLICK HERE FOR 2021 SYLLABUS AND MODEL PAPERS FOR CLASS 1 TO 12
RBSE BOARD SYLLABUS AND MODEL PAPERS 2021 EXAMINATIONS
CLICK HERE FOR RBSE BOARD SYLLABUS & MODEL PAPERS I
CLICK HERE FOR RBSE BOARD SYLLABUS & MODEL PAPERS II
SMILE 2.0 DAILY E CONTENT AND HOME WORK
CLASS I
CLASS II
CLASS III
CLASS IV
CLASS V
CLASS VI
CLASS VII
CLASS VIII
CLASS IX
CLASS X
CLASS XI
CLASS XII



CLICK HERE FOR SMILE 2.0 PROFILE PAGE​ PDF FORMAT


CLICK HERE FOR SMILE 2.0 PROFILE PAGE​ WORD FORMAT


CLICK HERE FOR SMILE CALLING FORM PDF FORMAT


CLICK HERE FOR SMILE CALLING FORM WORD FORMAT


CLICK HERE FOR SMILE FORMAT अ FORM PDF FORMAT


CLICK HERE FOR SMILE FORMAT अ FORM WORD FORMAT


CLICK HERE FOR ALL SMILE FORMAT ORDERS & GUIDELINES


CLICK HERE FOR SMILE FORMAT अ FORM WORD FORMAT



TEACHERS CALLING FORM LINK DISTRICT WISE

जयपुर, जैसलमेर, सिरोही, अलवर, प्रतापगढ़ , टोंक, चूरू, पाली, सीकर हेतु फॉर्म लिंक


बाड़मेर, उदयपुर, बारां , धौलपुर, सवाई माधोपुर, राजसमन्द, बीकानेर, झुंझुनूं, गंगानगर हेतु


नागौर, जोधपुर, कोटा, बूंदी, करौली, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, दौसा हेतु फॉर्म लिंक


भीलवाड़ा, बाँसवाड़ा, जालोर, झालावाड़, भरतपुर, हनुमानगढ़, अजमेर हेतु फॉर्म लिंक

यहाँ आपको जल्द ही SMILE के सम्बन्ध में समस्त आदेश, सर्कुलर, और दिशा निर्देश उपलब्ध होंगे 


SMILE 2.0 FULL DETAILS VIDEO 👇👇👇

क्या हैं SMILE 2.0 | क्या क्या जिम्मेदारियाँ होगी एक शिक्षक, संस्था प्रधान और PEEO की

कैसे बनेंगे व्हाट्सअप ग्रुप और किस प्रकार दिए जायेंगे होमवर्क और कैसे होगा चेक |

हमारे प्रतिनिधियों द्वारा शुरू किये गये शैक्षिक  व्हाट्सअप ग्रुप से
जुड़ने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें

JOIN US

हमे मेल करें  SHALA SUGAM



बच्चों के लिए | कैसे करना है गृह कार्य
डाउनलोड और किस प्रकार करना पुन: अपने शिक्षको को शेयर

सरल प्रक्रिया से जाने अपनी
सम्पूर्ण प्रोसेज को |

हमारे प्रतिनिधियों द्वारा शुरू
किये गये शैक्षिक  व्हाट्सअप ग्रुप से
जुड़ने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें

JOIN US

हमे मेल करें  SHALA SUGAM



ऑनलाईन प्लेटफार्म स्माईल-2.0

ऑनलाईन प्लेटफार्म
स्माईल-2.0 के सम्बन्ध में
 श्रीमान निदेशक, माध्यमिक शिक्षा
राजस्थान बीकानेर. का परिपत्र क्रमांक- शिविरा/माध्य / गा-स/22497/ 2017- दिनांक-
12/11/2020
:-

कोविड-19 के संकमण को गद्देनजर गत सत्र : 2019 -20 में इस कार्यालय
के समसंख्यक आदेश दिनांक : 10.04.2020 एवं प्रारम्भिक शिक्षा निदेशालय के आदेश
कगांक : शिविरा/ प्रारं/शैक्षिक/एवी/ कवि/19-20 दिनांक : 10.04.2020 के द्वारा
कक्षा 9 व 11 तथा कक्षा – 1 से 8 के कक्षा कमोन्नति प्रावधानों में केवल सत्र 2019
-20 हेतु एकबारीय शिथिलन प्रदान किया जाकर विद्यार्थियों को विना वार्षिक परीक्षा
के कमोन्नत किया गया था।

वर्तमान परिस्थितियों में वैश्विक महामारी कोविड – 19 की
परिस्थितियों के दृष्टिगत रखते हुए कक्षा 1 से 8 के विद्यार्थियों को विद्यालय में
आने की अनुमति प्रदान नहीं की गई है गृह मंत्रालय, भारत सरकार के आदेशांक :
40-3/2020-डीएम-1(ए) दिनांक : 30 सितम्बर, 2020 के अनुसरण में राज्य सरकार के गृह
मंत्रालय के निर्देश पत्रांक : प.33(2 ) गृह-9/2019, दिनांक 30.09.20 के द्वारा
कन्टेन्मेन्ट जोन्स के बाहर के विद्यालयों में कक्षा-9 से 12 तक के विद्यार्थियों
को अभिभावकों की स्वीकृति उपरान्त स्वैच्छिक रूप से विद्यालय जाकर अपने अध्यापकों
से मार्गदर्शन प्राप्त करने की अनुमति प्रदान की गई थी।

कोविड-19 के संकमण को
देखते हुए विद्यालय में नियमित शिक्षण की अनुमति प्रदान नहीं की गई है। हमारे लिए
यह चुनौती थी कि हम अध्ययन-अध्यापन की प्रक्रिया को जारी रख कर विद्यार्थियों को
जोड़ सकें। इसी क्रम में शिक्षा विभाग की ओर से एक नवीन पहल ‘आओ घर में सीखें
आरम्भ की गई है। इसके तहत विद्यार्थियों से यह अपेक्षित है कि वे निम्नलिखित
माध्यमों से अपनी पढ़ाई को निरन्तर जारी रखे:-

1. ऑनलाईन प्लेटफार्म
स्माईल-2.0 के तहत शिक्षा विभाग द्वारा व्हाटसएप्प ग्रुप के माध्यम से पहुंचाए जा
रहे विडियो को निरन्तर देखें एवं गृहकार्य को निरन्तर रूप से जारी रखें। इसके साथ
ही यू-टयूब में जारी किए गए ई-कक्षा के वीडियो के माध्यम से भी अपना अध्ययन
निरन्तर जारी रखें। शिक्षक इस हेतु अपने विद्यार्थियों को प्रेरित और प्रोत्साहित
करें।

2. सभी विद्यार्थियों
तक पाठ्य पुस्तकें पहुंचाई जा चुकी हैं। अत: विद्यार्थियों से अपेक्षा रहेगी कि वे
इनका अध्ययन भी साथ-साथ में करते रहें। पाठ्यक्रम का स्वाध्याय तथा उपर्युक्त
प्रकार के ऑनलाईन माध्यम से अध्ययन करें, ताकि विषय के प्रति उनकी समझ में अच्छी
बन सकें।

3. कक्षा 1 से 8 के
विद्यार्थी पाठ्यक्रम ई कक्षा और स्माईल विडियो पर आधारित कार्य पुस्तिकाएं
यथा-शीघ्र अपने विद्यालयों से प्राप्त करेंगे तथा उसे पूर्ण करके अपने कक्षा
अध्यापक को जमा करवाएंगे।

उक्त के मद्देनजर
राज्य के समस्त राजकीय विद्यालयों के विद्यार्थियों के सत्रीय एवं सत्रांत
मूल्यांकन की तैयारी हेतु निम्नांकित निर्देश जारी किए जाते हैं। इस सम्बन्ध में
विस्तृत दिशा-निर्देश एवं मूल्यांकन-योजना पृथक से यथासमय जारी की जाएगी :-

1. स्माईल-2 कार्यक्रम
के तहत प्रत्येक विद्यार्थी को गृहकार्य दिया जाकर उसका पोर्टफोलियो तैयार किया
जाएगा। प्रत्येक विद्यार्थी के गृहकार्य व पोर्टफोलियो (पंजिका) के आधार पर उसके
सीखने के प्रतिफलन का मूल्यांकन किया जाएगा इस हेतु कक्षाध्यापक एवं विद्यार्थी
परस्पर सम्पर्क कर गृहकार्य पूर्ण किया जाना एवं संस्थाप्रधान विद्यालय में
विद्यार्थीवार पोर्टफोलियो संधारण किया जाना सुनिश्चित करेंगे।

2. कक्षा 1 से 8 के
समस्त विद्यार्थियों के लिए कार्य-पुस्तिका तैयार करवाई जा रही है, जो सभी
विद्यार्थियों तक आवश्यक रूप से फरवरी माह के अन्त तक पहुंचा दी जाएगी।
पाठ्यक्रमानुसार तैयार अभ्यास पुस्तिकाओं को प्रत्येक विद्यार्थी को आवश्यक रूप से
पूर्ण करना होगा विद्यार्थी द्वारा भरी गई कार्य-पुस्तिका के आधार पर भी उसकी
शैक्षिक लब्धि का आकलन किया जाएगा।

3 उपर्युक्त बिन्दु
संख्या- 01 व 02 में निर्देशित मूल्यांकन विन्दुओं के अतिरिक्त प्रत्येक
विद्यार्थी का परख/परीक्षा के माध्यग से भी गूल्यांकन किया जाकर कक्षा -क्रमोन्नति
की जाएगी। ऐसे विद्यार्थी जो स्माईल, स्माईल-2, शिक्षावाणी तथा शिक्षादर्शन के
गायक से अध्ययन नहीं कर पा रहे हैं, वे पाठ्यपुस्तकों से अपना अध्ययन जारी रखेंगे
तथा उवत प्रकार से गूल्यांकन प्रक्रिया में सम्मिलित होंगे ।

4. समस्त कक्षाओं के
विद्यार्थियों से अपेक्षा रहेगी कि सत्र में कोविड-19 परिस्थितियों के कारण
संक्षिप्त किए गए पाठ्यक्रम के अलावा छोड़े गए शेष अंशो का भी अध्ययन करें जिससे
विषय के वारे में उन्हें पूर्ण जानकारी प्राप्त हो सकें। हालांकि छोड़े गए
पाठ्यक्रम में से परीक्षा में प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। कक्षा 1 से 8 के
विद्यार्थियों का शैक्षणिक सत्र अन्य वर्षों के शैक्षणिक सत्र के अनुसार ही होना
अनुमानित है । अतः वे अपना अध्ययन अध्यापन को गम्भीरता से लेते हुए पूर्ण
करें। 

दीपावली
अवकाश के बाद शिक्षक विद्यालयों में नियमित रूप से उपलब्ध रहेंगे तथा विद्यार्थी
फोन, मैसेज एवं व्यक्तिशः /अभिभावक के माध्यम से साप्ताहिक आधार पर कोविड एडवाईजरी
की पूर्ण पालना करते हुए पूर्व में जारी दिशानिर्देशों के अनुरूप मार्गदर्शन
प्राप्त कर अपनी शंकाओं का निवारण आवश्यक रूप से करें।

संस्था
प्रधान और शिक्षक अपने विद्यालयों के विद्यार्थियों से निरंतर सम्पर्क में रहकर
उन्हें अध्ययन अध्यापन के उपर्युक्त प्रकारों के साथ-साथ स्वाध्याय के लिए प्रेरित
करेंगे। ब्लॉक, जिला और संभाग स्तरीय कार्यालयों में कार्यरत शिक्षाधिकारी अपने
क्षेत्राधिकार में आने वले विद्यालयों में प्रबोधन करते हुए उक्त की क्रियान्विति
सुनिश्चित करेंगे।

ऑनलाईन
प्लेटफार्म स्माईल-2.0 के सम्बन्ध में
 श्रीमान
निदेशक, माध्यमिक शिक्षा राजस्थान बीकानेर. का आदेश क्रमांक- शिविरा/माध्य / मा-द
/ ई-कक्षा / 20-21 दिनांक- 02/11/2020
:-

कोविड़-19 के कारण विद्यालय में विद्यार्थियों के आने तथा
कक्षा शिक्षण न होने के कारण घर पर शिक्षण की निरन्तरता बनाए रखने के लिये अप्रेल
2020 से विद्यार्थियों को घर पर ही डिजिटल माध्यम से अध्ययन सामग्री पहुँचाने हेतु
स्माईल कार्यक्रम विद्यालयों द्वारा विद्यार्थियों / अभिभावकों के साथ वाट्सएप
ग्रुप के माध्यम से प्रारंभ किया गया। अब विद्यार्थियों तक पाठ्यपुस्तकें पहुँच गई
है। कार्यपुस्तिकाएं भी पहुँच रही है उक्त अध्ययन की प्रतिपुष्टि, निरन्तरता एवं
व्यापक पहुँच के लिये “स्माईल-2” प्रारंभ किया जा रहा है जो कि कक्षा 1 से 8 के
विद्यार्थियों के लिये गृहकार्य पर आधारित होगा गृहकार्य स्माईल की सामग्री के साथ
ही सप्ताह में कक्षा 1 से 5 के लिये एक बार-सोमवार तथा कक्षा 6 से 8 के लिये
सप्ताह में दो बार- सोमवार एवं बुधवार को विद्यार्थियों तक पहुँचाया जाएगा। जिन
विद्यार्थियों के पास डिजिटल संसाधन नहीं है, संस्था प्रधान उन विद्यार्थियों तक
गृहकार्य पहुँचाने एवं पुनः संकलित करने की व्यवस्था करेंगे, इस हेतु विद्यार्थी
अपने अभिभावक के साथ कोविड-19 की गाईड लाईन की पालना करते हुए विद्यालय आकर भी उक्त
गृहकार्य सामग्री ले सकेगे अथवा जमा करा सकेंगे उक्त गृहकार्य का समय-चक्र, सप्ताह
प्रारंभ होने से पूर्व उपलब्ध कराया जाएगा।

“स्माईल-2 कार्यक्रम में निम्नानुसार कार्य
किये जाने है:

ऑनलाईन प्लेटफार्म स्माईल-2.0 के
सम्बन्ध में
 कक्षाध्यापक के दायित्व :-

1 स्माईल के वाट्सएप
ग्रुप विद्यालयवार ना होकर कक्षावार होंगे, जिसे कक्षाध्यापक द्वारा सचालित किया
जाएगा। (जहां पूर्व से ही कक्षावार ग्रुप बने हुए है तो वे तद्नुसार ही संचालित
रहेंगे ।) जिससे अधिकाधिक विद्यार्थियों तक गृहकार्य सामग्री पहुँचाई जा सके।

2 अब स्माईल के मैसेज
के साथ स्माईल-2 अन्तर्गत गृहकार्य की सामग्री भी प्राप्त होगी। कक्षा 1 से 5 के
लिये यह सामग्री सप्ताह में एक बार सोमवार को तथा कक्षा 6 से 8 के लिये सप्ताह में
दो बार सोमवार एवं बुधवार को प्राप्त होगी संस्था प्रधान का यह दायित्व होगा कि इस
गृहकार्य सामग्री को विद्यार्थी अथवा उसके अभिभावक तक पहुँचाना सुनिश्चित करेंगे।
यह गृहकार्य सामग्री निम्नांकित माध्यमों से विद्यार्थी तक पहुँचाई जा सकती है :

·      
कक्षावार बने हुए
स्माईल वाट्सएप ग्रुप द्वारा स्माईल की अध्ययन सामग्री के साथ विद्यार्थी अथवा
उसके अभिभावक तक गृहकार्य सामग्री भी पहुँचाई जाए । विद्यार्थी द्वारा उक्त
गृहकार्य अपनी नोटबुक में पूरा करने के बाद उनकी फोटो इसी ग्रुप में अपलोड करेंगे,
जिसका प्रिंट लेते हुए जांच कर, कक्षा अध्यापक विद्यार्थीवार पोर्टफोलियों (पंजिका
संधारित कर) में संधारित करेंगे। उक्त पंजिका में संधारित गृहकार्य को इस सत्र के
मूल्यांकन का भाग बनाया जाएगा।

·      
शेष विद्यार्थियों तक
संस्था प्रधान द्वारा नामित शिक्षक द्वारा स्माईल-2 के तहत प्राप्त गृहकार्य
सामग्री (कक्षा 1 से 5 के लिये सप्ताह में एक बार तथा कक्षा 5 से 8 के लिये सप्ताह
में दो बार) उनके घर पर पहुँचाई जाएगी तथा गत सप्ताह में पूर्ण किये गये गृहकार्य
को संकलित किया जाएगा। यह संकलित पूरा किया हुआ गृहकार्य जांच उपरांत विद्यार्थी
के पोर्टफोलियो / पंजिका में संधारित किया जाएगा। विद्यार्थियों के घर गृहकार्य
पहुँचाने एवं पुनः संकलित करने हेतु शिक्षक दोपहर 2 बजे के उपरांत भ्रमण कर
सकेंगे।

·      
पाठ्यपुस्तकों के
कान्सेप्ट, स्माईल अध्ययन सामग्री अथवा e-कक्षा विडियों संबंधित अध्ययन जिज्ञासाओं
के समाधान के लिये, अपने अभिभावक की लिखित सहमति के साथ कोविड-19 की गाईड लाईन की
पालना करते हुए कक्षा 9 से 12 के विद्यार्थी विद्यालय आ सकेंगे। यह विकल्प पूर्णतः
अभिभावकों की सहमति पर आधारित तथा स्वैच्छिक होगा।

3. कक्षा अध्यापक का
यह दायित्व होगा कि वह प्रत्येक दो सप्ताह में समीक्षा कर संस्था प्रधान को अवगत
करावें कि उनकी कक्षा में कुल कितने विद्यार्थी नामांकित है और उनमें से कितने
विद्यार्थियों के गृहकार्य की सूचना जांच उपरांत उनके पोर्टफोलियों में संधारित की
गई है, जिन विद्यार्थियों से गृहकार्य कार्य प्राप्त करने एवं पूर्ण कर जमा कराने
हेतु स्माईल वाट्सएप ग्रुप प्रतिक्रिया प्राप्त नहीं हुई है उन्हें दूरभाष पर कॉल
कर इस हेतु प्रेरित किया जाएगा ।

4 उच्च अधिकारियों
द्वारा विद्यालय निरीक्षण के समय विद्यार्थियों के गृहकार्य हेतु विद्यार्थीवार
तैयार पोर्टफोलियो/ पंजिका अवलोकित कराई जाएगी।

5. यह गृहकार्य
सामग्री स्माईल के माध्यम से भेजी गयी e – कक्षा की विडियो सामग्री एवं
पाठ्यपुस्तकों पर आधारित होगी। अतः कक्षा अध्यापक/ विषयाध्यापक विद्यार्थियों को
विडियो सामग्री तथा पाठ्य पुस्तक की सहायता से गृहकार्य पूर्ण करने हेतु गागदर्शन
देंगे।

ऑनलाईन प्लेटफार्म स्माईल-2.0
के सम्बन्ध में संस्था प्रधान / पीईईओ के दायित्व :-

1 संस्था
प्रधान/पीईईओ, प्रत्येक कक्षा के वाट्सएप ग्रुप में रहेंगे तथा नियत
दिवस/प्रतिदिवस उन्हें प्राप्त स्माईल एवं “स्माईल-2 की क्रमशः शिक्षण सामग्री एवं
गुह कार्य संबंधित सामग्री कक्षा के ग्रुप में उपलब्ध कराएंगें।

2 कक्षावार बने
वाट्सएप ग्रुप में रिप्लाई देने वाले विद्यार्थियों की पहचान कक्षाध्यापक की
सहायता से करेंगे एवं उनसे संबंधित गृहकार्य विद्यार्थी के घर तक पहुँचाना तथा
पुनः प्राप्त करना सुनिश्चित करेंगे इसके लिये शिक्षकों का दायित्व निर्धारित किया
जाएगा।

3 किसी कक्षा अध्यापक
के अवकाश अथवा अन्यत्र ड्यूटी पर होने की स्थिति में संस्था प्रधान द्वारा अन्य
शिक्षक को उसके स्थान पर, इस कार्य हेतु दायित्वबद्ध किया जाएगा।

4. कक्षा अध्यापक
द्वारा गृहकार्य के आधार पर तैयार पोर्ट फेलियो का अवलोकन एवं पर्यवेक्षण करेंगे।
संस्था-प्रधान/पीईईओ निरन्तर कक्षा अध्यापक, विषयाध्यापकों एवं अभिभावकों के
सम्पर्क में रहेंगे तथा विद्यालय के विद्यार्थियों की स्माईल एवं “स्माईल-2” की
प्रगति रिपोर्ट संधारित करेंगे जिसे उच्च अधिकारियों को प्रेषित किया जा सके।

5 विद्यार्थियों तक
पाठ्यपुस्तकें /वर्कबुक (बिहाइण्ड-ग्रेड़ तथा एट-ग्रेड वर्कवुक) पहुँचना सुनिश्चित
करेंगे। यदि विद्यालय तक उक्त पुस्तके /वर्कबुक (बिहाइण्ड -ग्रेड तथा एट- ग्रेड
वर्कबुक) नहीं पहुँची है तो संबंधित अधिकारी से सम्पर्क कर प्राप्त करना सुनिश्चित
करेंगे ।

6 संस्थाप्रधान/पीईईओ
का यह प्रयास रहे कि विद्यालय / पीईईओ परिक्षेत्र के अधिकाधिक विद्यार्थी
पाठ्यपुस्तक, कार्यपुस्तिका एवं गृहकार्य की गतिविधियां करें एवं इस कार्यक्रम से
लाभान्वित होवे।

7 आवश्यकतानुसार इस
हेतु अभिभावकों के साथ ऑनलाईन/ऑफलाईन बैठक कर विद्यार्थी की शैक्षणिक प्रगति से
अवगत कराएंगे। 8 प्रबोधन हेतु स्माईल एवं स्माईल-2 से नवीन संबद्ध पीईईओ
परिक्षेत्र के विद्यार्थियों की संख्या को स्माईल फीड बैक गुगलशीट के माध्यम से
प्रति सप्ताह भेजना जाना सुनिश्चित करेंगे।

मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी/
जिशिअ( मुख्यालय) माध्यमिक / प्रारंभिक के दायित्व :

1 स्माईल एवं
“स्माईल-2” की क्रमशः शिक्षण सामग्री एवं गुह कार्य सामग्री विद्यार्थी तक पहुंचने
एवं उसके पुनः संकलन एवं पोर्टफोलियों बनने के वास्तविक प्रबोधन के लिये स्वयं
सहित कार्यालय के अधिकारियों में परिक्षेत्र के विद्यालयों को अनुपातिक रूप में
बांटेंगे, जिससे नियमित प्रबोधन हो सके।

2 मुख्य ब्लॉक शिक्षा
अधिकारी एवं उनके कार्यालय के अधिकारी उन्हें आवंटित विद्यालयों का निरीक्षण
करेंगे, जिसमें स्माईल की प्रगति एवं कार्यपुस्तिकाओं का वितरण किया जाना
सुनिश्चित करेंगे।

3 ब्लॉक स्तर पर गठित
वाट्सएप ग्रुप में संख्यात्मक प्रगति की सूचना प्राप्त करेंगे।

4 स्माईल एवं
“स्माईल-2” की क्रियान्विति के लिये पीईईओ के साथ ऑनलाईन/ऑफलाईन बैठक करेंगें।

5 सम्पूर्ण ब्लॉक
/परिक्षेत्र के विद्यालयों की स्माईल एवं “स्माईल 2′ की प्रगति संबंधी
सूचना अद्यतन रखेंगे, जिससे उच्च अधिकारियों को भेजी जा सके।

6 मुख्य ब्लॉक शिक्षा
अधिकारी स्माईल एवं “स्माईल 2 की सामग्री पीईईओ / संस्था प्रधान तक पहुँचाना
सुनिश्चित करेंगे।

7 मुख्य ब्लॉक शिक्षा
अधिकारी/ जिला शिक्षा अधिकारी का यह प्रयास रहे कि ब्लॉक/ परिक्षेत्र के
विद्यालयों के समस्त विद्यार्थी पाठ्यपुस्तक, कार्यपुस्तिका एवं गृहकार्य की
गतिविधियां करें एवं इस कार्यक्रम से लाभान्वित होवे।

8 प्रत्येक सप्ताह
ब्लॉक/परिक्षेत्र के रेण्डम आधार पर अभिभावकों, शिक्षकों तथा विद्यार्थियों से
दूरभाष पर बात कर वास्तविक प्रगति से भिज्ञ रहेंगे।

ऑनलाईन प्लेटफार्म स्माईल-2.0 के
सम्बन्ध में
 मुख्य जिला
शिक्षा अधिकारी के दायित्व

1 स्माईल एवं “स्माईल
2” की क्रमशः शिक्षण सामग्री एवं गृह कार्य विद्यार्थी तक पहुंचने एवं उसके पुनः
संकलन एवं पोर्टफोलियों बनने के वास्तविक प्रबोधन के लिये स्वयं सहित कार्यालय के
अधिकारियों में अधीनस्थ ब्लॉक्स को अनुपातिक रूप में बांटेंगे, एवं आवंटित ब्लॉक
की प्रगति से नियमित अपडेट रहेंगे तथा उन्हें प्रोत्साहित करेंगे।

2 मुख्य जिला शिक्षा
अधिकारी एवं उनके कार्यालय के अधिकारियों को आवंटित विद्यालयों का निरीक्षण
करेंगे, जिसमें स्माईल की प्रगति एवं कार्यपुस्तिकाओं का वितरण सुनिश्चित करेंगे।

3 जिला स्तर पर गठित
वाट्सएप ग्रुप में संख्यात्मक प्रगति की सूचना प्राप्त करेंगे।

4 सम्पूर्ण जिले के
विद्यालयों की स्माईल एवं “स्माईल ” की प्रगति संबंधी सूचना अद्यतन रखेंगे, जिससे
 उच्च अधिकारियों को भेजी जा सके।

5 मुख्य जिला शिक्षा
अधिकारी स्माईल एवं “स्माईल 2” की सामग्री ब्लॉक एवं विद्यालयों तक पहुँचाना
सुनिश्चित करेंगे।

6 मुख्य जिला शिक्षा
अधिकारी का यह प्रयास रहे कि जिले के विद्यालयों समस्त विद्यार्थी पाठ्यपुस्तक,
कार्यपुस्तिका एवं गृहकार्य की गतिविधियां करें एवं इस कार्यक्रम से लाभान्वित
होवे ।

7. प्रत्येक सप्ताह
जिले के कतिपय अभिभावकों, शिक्षकों तथा विद्यार्थियों से दूरभाष पर बात कर
वास्तविक प्रगति से भिज्ञ रहेंगे।

 


Pin It on Pinterest

Shares
Share This